Type Here to Get Search Results !

Dar Motivational Story in Hindi - Fear को काबू मे करने का तरीका

दोस्तो,जब कोई इंसान डर को काबू मे कर लेता है,तब क्या होता है?इस नई Dar motivational story in hindi मे आप यही पढ़ेंगे।तो चलिए भय को हराने वाली या उस पर जीत दिलाने वाली इस प्रेरणात्मक कहानी को अब शुरू करते है ममीत एक डरपोक स्वभाव का युवक था।बिना वजह के ममीत हर चीज से डर लगता था। कभी अपने ही घर मे बिजली चली जाती थी और अंधेरा हो जाता।

Dar Motivational Story in Hindi

Dar motivational story In Hindi

तो ममीत डर जाता। वह किसी भी स्थान पर जब अकेला रहता। तब भी उसे बहुत भय का अनुभव होता था..। वह अपने कमरे मे कभी अकेला नहीं सो पाता था। क्यूंकि अकेले सोने मे भी उसे डर लगता था। इसलिए वह अपने मां या पिता के साथ सोता था। physically ममीत कमजोर नहीं था..।

वह एक लंबा चौड़ा और गठीला शरीर वाला जवान लड़का था।पर mentally उसे डरने और असहज हो जाने की आदत थी।ममीत को भी यह समझ नहीं आता था कि उसे इतना डर क्यों लगता है? एक बार ममीत किसी फाइनेंस कंपनी मे जॉब के लिए इंटरव्यू देने गया। जब इंटरव्यू लेने वाला व्यक्ति उससे बातें करने लगा। तो ममीत को डर लगने लगा..। वह interview मे ठीक तरह से कुछ भी नहीं नहीं पाया।

जबकि ममीत से इंटरव्यू मे कोई कठिन सवाल भी नहीं पूछे गए थे? ममीत को जॉब नहीं मिला। उस फाइनेंस कंपनी के एरिया से ममीत बाहर आ गया। बाहर आने पर उसने देखा की वहां पर कोई भी व्यक्ति मौजूद नहीं था। वह उस स्थान पर अकेला ही खड़ा था.

यह देख कर ममीत को dar लगने लगा। हड़बड़ी मे ममीत ने अपने बाईक मे बैठा और वहां से चल दिया।घर आकर ममीत सीधे अपने कमरे मे गया और रोने लगा। ममीत के माता पिता दौड़ कर उसके पास आते है। उसके माता पिता उसे गले लगा लेते है और बहुत समझाते है।

अगले दिन ममीत का एक ममेरा भाई आता है..। ममीत का ममेरा भाई भी उसी के उम्र का रहता है। वह ममीत को अपने साथ अपने घर ले जाता है। ममीत का कजिन ब्रदर गांव मे रहता था।ममीत के मामा के गांव मे बड़े बड़े खेत थे। उसमे ढ़ेर सारे फसल लगे हुए थे..। रात के समय जंगली जानवर फसल को नुकसान पहुंचा देते थे। इसलिए ममीत के मामा या उसका ममेरा भाई रात को खेत पर ही सोते थे। एक रात ममीत के मेमेरे भाई ने उससे खेत मे उसके साथ सोने को कहा।

यह सुनकर ममीत डर गया..। पर वह अपने ममेरे भाई के साथ रात मे खेत पर सोने चला गया।खेत के एक कोने पर ममीत का ममेरा भाई सोया था। जबकि दूसरे कोने पर ममीत सोया था। ममीत को रात के समय खेत पर काफी डर लग रहा था। ममीत का ममेरा भाई समझ गया की ममीत काफी भयभीत है। वह उसके पास आ गया। वह ममीत के पास आकर सो गया..। अगली रात फिर ममीत और उसका ममेरा भाई खेत पर सोने गए।

रात के समय दोनो भाई मोबाईल मे फाइट मूवी देखने लगे। फिर दोनो ने स्नैक्स खाए और खेत मे घूमने लगे। उस रात ममीत को खेत पर बहुत मजा आया। अब रोज ममीत और उसका ममेरा भाई रात मे खेत पर जा कर सोने लगे। दोनो भाई रात के समय खेत में घूमते,गाने सुनते,ड्राई फ्रूट्स खाते और खूब मस्ती करते। सुबह के समय ममीत अपने ममेरे भाई के साथ नदी मे नहाने जाता। ऊंचे ऊंचे पेड़ से ममीत का ममेरा भाई नदी मे छलांग लगा देता।और ममीत को भी छलांग लगाने को कहता। शुरू मे तो ममीत डर जाता..।

लेकिन अपने भाई को देख कर उसे भी हिम्मत आ जाता। वह भी नदी मे छलांग लगा देता और नदी मे तैरने लगता। शाम के समय ममीत का ममेरा भाई उसे कबड्डी खेलने के लिए ले जाता। ममीत को कबड्डी खेलने से भी डर लगता..।

लेकिन गांव के लड़को और अपने cousin को देख कर वह भी कबड्डी खेलने लगता। ममीत की जिंदगी पूरी तरह से change हो गई थी..। अब ममीत को किसी भी चीज से fear नहीं लगता था। वह अब एक निडर की तरह life को जी रहा था। हमेशा डरने वाला ममीत निर्भय होकर जीने लगा।

महत्वपूर्ण शिक्षा Important lesson of this Dar motivational story in hindi

मित्रो Outer world मे डर नाम की कोई वस्तु नहीं है। Dar हमारे भीतर से ही निकल कर हमे डराने आती है।fear को हराने या उससे जितने की कोई जरूरत नहीं बस आप खुल कर मस्ती मे जीना शुरू कर दे। इससे डर आपके भीतर से बाहर आ भी नहीं पाएगा। अगर यह आता भी है,तो हमे दर की ओर ध्यान नहीं देना है। इस beautiful जिंदगी की ओर ध्यान देना है।जो nature ने हमे नायाब तोहफा के रूप मे जीने के लिए दिया है। आपको यह Dar motivational story in hindi कैसी लगी?डर की इस प्रेरणात्मक कहानी पर अपनी राय या विचार हमे जरूर बताए। Read more..

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.